Monday, 17 December 2018, 4:15 PM

धर्म कर्म

होलिका चिंताओं की, होली भस्मी चिताओं की

Updated on 15 March, 2014, 12:53
वाराणसी। एक ओर जलते शव दूसरी तरफ होलिका चिंताओं की। क्या धरती और क्या अंबर सब लाल गुलाल और इनसे एकाकार हुई भस्मी चिताओं की जो बाबा के मस्तक पर चढ़ी और निहाल हो गई। उनके गणों के भावों से मिली, हर हर महादेव के घोष रूप में हवा में... आगे पढ़े

राकेट बरसाएगा रंग, डोरेमॉन करेगा तंग

Updated on 15 March, 2014, 12:52
इलाहाबाद। होली को अब चंद दिन ही शेष रह गए हैं। पारंपरिक रंग, अबीर-गुलाल के साथ ही इस बार होली कुछ ज्यादा ही आधुनिक नजर आ रही है। बाजार की रंगत बता रही है कि इस बार रंगों का यह त्योहार कुछ खास होगा। चाहे वह टोपी हो या पिचकारी,... आगे पढ़े

क्या है होली पूजन विधि, कैसे करें इस साल होली पूजन

Updated on 14 March, 2014, 12:05
[प्रीति झा] होली हिंदू धर्म के प्रमुख त्योहारों में से एक है। यह त्योहार फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस बार 16 मार्च [रविवार] को होलिका दहन और 17 मार्च [सोमवार] को रंगों वाली होली है। होली की शाम को होलिका का पूजन किया जाता है। होलिका... आगे पढ़े

होली की रस्में

Updated on 14 March, 2014, 12:03
भारत के विभिन्न क्षेत्रों में भले ही विविध प्रकार से होली का उत्सव मनाया जाता हो अलग-अलग रस्मों से मनाया जाता हो परंतु सबका उद्देश्य एवं भावना एक ही है-भक्ति, सच्चाई के प्रति आस्था और मनोरंजन। होली के दिन सुबह में पूजा समारोह की रस्म होती है। होली की प्रात: सुबह... आगे पढ़े

श्रीश्री रविशंकर ने की अध्यात्म अपनाने की अपील

Updated on 14 March, 2014, 11:47
इलाहाबाद। आज आप सभी शपथ लीजिए की रोज एक घंटा राष्ट्र के नाम देंगे। एक घंटा अपने गली मुहल्ले की सफाई, आसपास के गांवों के लोगों के साथ परिचर्चा और उनके दुखदर्द को सुनते हुए भजन कीर्तन करेंगे। अगर आप सब यह शपथ ले लें तो देश से भ्रष्टाचार खत्म... आगे पढ़े

कान्हा करते रहे मनुहार, चंचल गुजरियां ना मानीं

Updated on 14 March, 2014, 11:45
मथुरा। यह भी बृज की होली का ही हिस्सा था, लेकिन अंदाज बरसाना और नंदगांव की लठामार होली से जुदा। कान्हा मनुहार करते रहे तो मां यशोदा भी कहती रहीं-कान्हा छोटे हैं, छड़ियों से चोट लग जायेगी, लेकिन गोकुल की चंचल गुजरिया कान्हा संग छड़ियों से होली खेलती रहीं। फिर... आगे पढ़े

तुलसी, खुसरो पर नहीं चढ़ा ब्रज का सियासी रंग

Updated on 14 March, 2014, 11:43
एटा। कान्हा की यमुना, बराह से निकलती गंगा और योगीराज का वृंदावन। ब्रज की पावन धरा के इन पवित्र स्थलों में शामिल है तुलसी की सोरों और खुसरो की पटियाली। ब्रज की सियासत खूब फली फूली, मगर सोरों और पटियाली अछूते रह गए। सियायतदानों ने वादों की बलिहारी दी, मगर संसद... आगे पढ़े

होली पर पूरे प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद

Updated on 14 March, 2014, 11:41
लखनऊ। होली को त्योहार को शांतिपूर्वक संपन्न कराने के लिए पूरे प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था चौकस की जा रही है। भारत-नेपाल सीमा के जरिए होने वाले पारगमन पर सुरक्षा एजेंसियों की निगहबानी तेज कर दी गई है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी कड़ी चौकसी रहेगी।हालांकि यहां बड़ी संख्या में सुरक्षा... आगे पढ़े

यादों में गुम हो गई होल्यारों की होली

Updated on 13 March, 2014, 21:53
हरिद्वार। होली मनाने के लिए शहर और शहरवासी पूरी तरह तैयार हैं, लेकिन किसी समय होली के मौके पर दिखने वाली होल्यारों की टोली अब शहर में कहीं नहीं दिखती। होली के नाम पर अब सिर्फ रंगे पुते चेहरे लिए तेज रफ्तार बाइकों पर फर्राटा भरते युवा ही नजर आते... आगे पढ़े

संत खेलेंगे गंगाजल व गोबर की होली

Updated on 13 March, 2014, 21:52
हरिद्वार। संत गंगाजल व गोबर से होली खेलते हैं, जो हर साल की तरह इस बार भी खेली जाएगी। हालांकि अब संत फूलों व रंगों से भी होली खेलने लगे हैं, लेकिन अधिकतर संत आज भी गंगाजल व गोबर से ही होली खेलते हैं। संत समाज ने गंगा जल की गोबर... आगे पढ़े

दिख रही सजगता, हर्बल रंगों की मांग बढ़ी

Updated on 13 March, 2014, 21:51
हरिद्वार। पर्यावरण के प्रति जागरुकता की 'दैनिक जागरण' की मुहिम रंग ला रही है। इसका अंदाजा बाजार के रुख से सहज ही लगाया जा सकता है। होली पर सजे बाजारों में इस बार सिंथेटिक रंगों की बिक्री की अपेक्षा हर्बल गुलाल की डिमांड बढ़ रही है। विक्रेताओं के अनुसार इस... आगे पढ़े

बाबा के गणों से आबाद होगा महाश्मशान

Updated on 12 March, 2014, 21:15
वाराणसी। रंगभरी एकादशी पर काशी पुराधिपति गौरा का गौना ले आएंगे। अबीर गुलाल के रेड कारपेट पर बरात निकलेगी और इसके राग रंग में नहाएंगे। आह्लाद और आनंदित मन औघड़दानी लगे हाथ भक्तों को होलियाने मूड में आने की परमिशन थमाएंगे। ठीक इसके दूसरे ही दिन महाश्मशान पर अपने गणों... आगे पढ़े

वृंदावन के बांकेबिहारी सहित 5000 मंदिरों में रहेगी रंग की धूम

Updated on 12 March, 2014, 21:14
वृंदावन। रंगभरनी एकादशी यानि बुधवार से वृंदावन में चटकीला रंग उड़ेगा। भक्तों संग बांके बिहारी होली खेलेंगे। उल्लास भरे माहौल में पांच हजार मंदिरों में रंग, अबीर और गुलाल से सराबोर होने को देश और दुनिया से श्रद्धालु धाम में उमड़ने लगे हैं। चहुंओर राधे-राधे की गूंज है। बांके बिहारी मंदिर,... आगे पढ़े

वृंदावन: कान्हा संग होली खेल निहाल हो गये भक्त

Updated on 12 March, 2014, 21:11
मथुरा। श्रीकृष्ण जन्मभूमि पर रंगारंग लठामार होली बुधवार को दो बजे से होगी। हुरियारिनों की लाठियां प्रिय-प्रियतम की अलौकिक होली खेलने के लिए तैयार हैं। श्रीकृष्ण जन्म स्थान सेवा संस्थान के सचिव कपिल शर्मा और सदस्य गोपेश्वर नाथ के अनुसार, लठामार होली समिति के अध्यक्ष किशोर भरतिया व महामंत्री नंद... आगे पढ़े

होली के रंगों से सतरंगी होगी विधवाओं की 'सफेद धोती'

Updated on 12 March, 2014, 21:09
वृंदावन। भगवान श्रीकृष्ण की लीलास्थली वृंदावन में इस बार यहां की विधवाएं सदियों पुरानी परंपरा व सामाजिक बेड़ियों को तोड़ कर रंग और गुलाल की होली खेलेंगी। वे आपस में एक-दूसरे पर रंग बरसाएंगी, सामान्यजनों की भांति खुशी में डूब आनंद का एहसास करेंगी। ज्ञानगूदड़ी स्थित मीरासहभागिनी महिला आश्रय सदन में... आगे पढ़े

मुख्यमंत्री 16 को करेंगे चंद्रोदय मंदिर का शिलान्यास

Updated on 12 March, 2014, 21:07
मथुरा। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव 16 मार्च को वृंदावन-छटीकरा रोड पर चंद्रोदय मंदिर का शिलान्यास करेंगे। यह मंदिर विशालता और बुलंदी में आसमां छुएगा। मुख्यमंत्री के विशेष कार्याधिकारी गंगाराम की ओर से शिलान्यास की आधिकारिक जानकारी भेज दी गई है। इसके अनुसार मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मथुरा में 16 मार्च को साढ़े... आगे पढ़े

कम प्रतिशत वाले मतदान केन्द्रों पर चलेगी स्वीप की विशेष गतिविधियाँ

Updated on 11 March, 2014, 22:28
भोपाल : मध्यप्रदेश में माह अप्रैल में 29 संसदीय क्षेत्र में होने वाले लोकसभा चुनाव में मतदान का प्रतिशत बढ़ाने के लिए विधानसभा चुनाव की तरह ही स्वीप (सिस्टेमेटिक वोटर एजुकेशन एंड इलेक्ट्रोरल पार्टिसिपेशन) गतिविधियाँ संचालित की जायेंगी। स्वीप गतिविधियों को व्यापक स्तर पर चलाने के लिए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी... आगे पढ़े

विश्वनाथ बाबा के गौना पर फाग से सजेगी शाम

Updated on 11 March, 2014, 22:02
वाराणसी। रंगभरी एकादशी पर बुधवार को काशी विश्वनाथ दरबार उल्लास और उमंग से सराबोर होगा। बाबा के गौना की बरात निकलेगी और साथ होंगे विघ्न विनाशक व देवी गौरा। भक्त मंडल अबीर गुलाल की कारपेट बिछाएंगे, गुलाल उड़ाएंगे और बराती बन काशी पुराधिपति का गौना कराने जाएंगे। गीत संगीत भी... आगे पढ़े

रंगों की होली

Updated on 11 March, 2014, 22:01
होली दुनिया भर में मनाए जाने वाला एक धार्मिक त्योहार है जो सभी हिंदुओं द्वारा मनाया जाता है। हिंदुओं दीवाली के बाद होली ही दूसरा सबसे बड़ा त्योहार है। होली रंगों के त्योहार के रूप में भी जाना जाता है। भगवान कृष्ण के जीवन से संबंधित स्थानों पर खास कर के... आगे पढ़े

रंग डारी रे चुनरिया सांवरे श्यामजी ने

Updated on 11 March, 2014, 22:00
वृंदावन। रंग डारी रे चुनरिया सांवरे श्यामजी ने.. कुछ इसी तरह के मधुर स्वारों में निकले बोलों ने पूरा का पूरा वातावरण होलीमय कर दिया। मौका था मां श्यामाबाई आश्रम में होली का। यहां आज सुबह से धूम मची, तो घंटों महिलाओं ने बधाई गायन कर जमकर नृत्य किया। श्रीधाम वृंदावन... आगे पढ़े

अमला एकादशी 2014

Updated on 11 March, 2014, 21:59
आमल की एकादशी फाल्गुन मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को मनाई जाती है। आंवले के वृक्ष में भगवान का निवास होता हैं इसलिए इस दिन आंवले के वृक्ष के नीचे बैठकर भगवान का पूजन किया जाता हैं। आंवला विष्णु भगवान का प्रिय फल है। आमल की एकादशी एक पवित्र हिन्दू... आगे पढ़े

सखी हुरियारे बन आईं, होली फगुआ ने खिलवाई

Updated on 11 March, 2014, 21:58
नंदगांव। 'सखी हुरियारे बन आईं, होली फगुआ ने खिलवाई'। बरसाना के बाद सोमवार को नंदगांव की बारी थी। फगुआ के बहाने नंद के घर होली की धूम मची। नंदलाला के गांव में हुरियारों ने जमकर धमाल मचाया। शाम ढलते ही गलियों में हुरियारे ढाल लेकर निकले, तो हुरियारिनों ने उनका... आगे पढ़े

विश्वनाथ मंदिर: रंगभरी एकादशी को दो आरतियों का समय बदला

Updated on 10 March, 2014, 21:00
वाराणसी। घिसते-घिसते नौका के आकार में आ चुकी सिल पर रपटता लोढ़ा जब गहरी लसान के चलते भारी सिल को चुंबक की तरह अपने साथ अधर में उठा लेता है तो पप्पू महाराज (दशाश्वमेध वाले) का चेला बमबमवा गुरु को जोरदार हांक देता है- महराज ! तइयार हौ विजया रानी... आगे पढ़े

'कंस मरा धड़ाम से, होली मनाओ आराम से'

Updated on 10 March, 2014, 20:59
आगरा। भगवान श्रीकृष्ण की कर्मभूमि पर रंगोत्सव मनाने की विविधाएं हैं। ऐसी एक अनूठी डेढ़ सौ साल से गोकुलपुरा में चली आ रही है। यह पंरपरा है, कंस गेट से कंस का पुतला गिरा कर उसे मारने की। इसमें कंस के पुतले के सिर के टुकड़े किए जाते हैं। उसके... आगे पढ़े

लाठी के घाव को मरहम बरसाने की रज

Updated on 10 March, 2014, 20:58
बरसाना। राधा और कान्हा की लीला की पावन भूमि की रज भी चमत्कारिक है। बरसाने की धूल में भी मरहम है। ऐसा महरम जो सखियों की प्रेम पगी लाठियों की मार को भी पल भर में छू मंतर कर दे। लठामार होली के घाव को भरने वाली ये रज राधा जी... आगे पढ़े

बांके बिहारी ने भूखे रहकर भक्तों को दर्शन दिए

Updated on 10 March, 2014, 20:57
लखनऊ। जगत के पालनहार लाड़ले वृंदावन के बांके बिहारी की सेवायतों के आगे नहीं चली। शाम सेवायत की ढिलाई से बिहारीजी ने भूखे रहकर भक्तों को दर्शन दिए। बात रात आठ बजे की है। चढ़ावे के चक्कर में सेवायतों ने परंपरा तोड़ देर से भोग परोसा। कुछ सेवायतों ने बताया कि... आगे पढ़े

घेर लई सब गली रंगीली, छाय रही है छटा छबीली

Updated on 10 March, 2014, 20:56
बरसाना (मथुरा)। वसंत का अहसास कराता मौसम। रविवार को सूरज चढ़ा तो बरसाने की चमक ही निराली थी। बरसाना की होली में गुलाल बरसने लगा। आसमां ने गुलाबी आभा ले ली। होरी के रसियाओं का रस बरसना शुरू हुआ तो, तो छठा बदलने लगी। फाग खेलन बरसाने आयो है, नटवर... आगे पढ़े

उड़त अबीर-कुमकुम गुलाल रहयो सकल ब्रज छाये

Updated on 10 March, 2014, 12:27
मथुरा । 'उड़त अबीर-कुमकुम-गुलाल, रहयो सकल ब्रज छाए'। जी हां, बरसाना में शनिवार को त्रिभुवन का आनंद बरसा। नभ में चहुंओर अबीर-गुलाल की घटा छा। श्रीजी मंदिर प्रांगण में प्रेम रस से सने लड्डुओं की मिठास भी बरसी। हर तरफ 'होली है-होली है, लगाओ गुलाल, रंग डालो' का शोर। अबीर-गुलाल... आगे पढ़े

ब्रज में हर ओर राधे-राधे कृष्णा-कृष्णा

Updated on 8 March, 2014, 22:11
मथुरा। ब्रज में हर ओर अब राधे-राधे और कृष्णा-कृष्णा सुनाई दे रहा है। होली के आयोजनों का साक्षी बनने को श्रद्धालु ब्रज पहुंचने लगे हैं। रेलवे और बस स्टैंड पर श्रद्धालु टोल के रुप में दिखाई दे रहे हैं। ब्रज आते ही वह होली के स्थलों और आवागमन की जानकारी... आगे पढ़े

यहां होती है बसंत पंचमी पर छेका महाशिवरात्रि पर विवाह रंगभरी एकादशी पर गौना

Updated on 8 March, 2014, 22:09
वाराणसी। रंगभरी एकादशी के नजदीक आते ही काशी विश्वनाथ मंदिर में बाबा के गौना की रंगत छाने लगी है। उत्सव की तैयारियों का खाका खींचा जाने लगा है तो तन मन फागुनी उमंगों से पगा है। बारह मार्च की शाम बाबा के माथे गुलाल मलेंगे और काशी रंगों के पर्व होली... आगे पढ़े

India City news Exclusive