2 बजे तक व्यापारी यो ने प्रतिष्ठा न बन्द कर किया विरोध 

indiacitynews. com

 उदयपुरा(रायसेन) से मिथलेश मेहरा

उदयपुरा-स्थानीय गांधी चबूतरा पर नगर के समस्त व्यापारी एकत्रित हुए जी एस टी की जटिलताओं एवं सख्त नियमो का निराकरण एवं जी एस टी प्रणाली को सरल एवं पारदर्शी करने के लिए समस्त व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान को अपरान्ह 2 बजे तक बंद रखकर जी एस टी की जटिलता का विरोध किया स्थानीय गांधी चबूतरा पर तहसीलदार  राकेश शुक्ला एवं थाना प्रभारी प्रकाश शर्मा पहुँचे और प्रधानमंत्री के नाम तहसीलदार राकेश शुक्ला को ज्ञापन दिया ज्ञापन में कहा  गया है की व्यापार संघ के सभी सदस्य जी एस टी की कर प्रणाली की जटिलताओं से काफी परेशान है और असहज महसूस कर रहे है देश मे एक देश एक कर का जो नारा दिया गया था उसका उल्लंघन हो रहा है जी एस टी लागू होने से आज तक इस कानून में लगभग 985 संसोधन हो चुके है जबकि व्यापारी के पास एक भी अफसर नही की वह अपना रिटर्न रिवाइज कर सके किसी भी जी एस टी अधिकारी को स्व विवेक के आधार पर आडिट एवं सर्वे का अधिकार देना कहा तक न्याय उचित हैं सिर्फ शक के आधार पर व्यापारी को जेल भेजने के प्रावधान ने हम व्यापारी यो का जीवन नरकीय वना दिया है जी एस टी में पहले 10 % इनपुट ले सकते थे इसे आपने 5 %कर दिया है यंही नही कर अधिकारी यदि चाहे तो बिना किसी सुनवाई के पंजीयन  निरस्त कर सकता है हम यंहा पर स्पस्ट कर देना चाहते है कि हम जी एस टी का विरोध नही कर रहे हम चाहते है कि हमारी भावनाओं को समझते हुए जी एस टी प्रणाली को सरल एवँ पारदर्शी किया जाए ताकि ईमानदारी से टैक्स भरने वाले हम व्यापारी हतोत्साहित ना हो । ज्ञापन देने वालो में वरिस्ठ व्यापारी शिव नारायण मालानी,व्यापार संघ के अध्यक्ष राजेंद्र रघु ,गोवर्धन दास मालानी,गिरधारी लाल जैन,ऋषि राज तोमर,के के गुप्ता, कमलेश सोनी ,विवेक लोया ,बृजेन्द्र साहू आदि शामिल थे।

न्यूज़ सोर्स : मिथलेश मेहरा उदयपुरा रायसेन