indiacitynews. com

उमरिया से संतोष गुप्ता

जिला प्रेस परिषद ने कोविड 19 की वैश्विक महामारी के कारण जारी लॉकडाउन के कारण प्रभावित हुए लोगों के लिए जारी राहत पैकेज में प्रिंट एवम इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में कार्यरत पत्रकारों को भी शामिल करने की मांग उठाई है । तत्सम्बन्ध में मुख्यमंत्री के नाम संबोधित तीन सूत्रीय  ज्ञापन आज कलेक्टर उमरिया संजीव श्रीवास्तव को सौंप गया ।* 
ज्ञापन में कहा गया है कि लॉक डाउन के कारण समाज के सभी वर्गों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा है और कइयों की आजीविका का संकट खड़ा हुआ है जिसको संभालने के लिए केंद्र व राज्य सरकारों ने राहत पैकेज का ऐलान किया है , किन्तु खेद जनक है कि उसके दायरे में  प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकारों को नही रखा गया है । जबकि पत्रकार खुड़ को जोखिम में डालकर रिपोरिटिंग का काम करते हैं । लॉक डाउन के कारण उनकी भी आर्थिक क्षति हुई है । 
   प्रेस परिषद ने मुख्यमंत्री को दिए गए ज्ञापन में कोरोना राहत पैकेज में पत्रकारों को शामिल करने और प्रति पत्रकार 25000 रुपये का राहत अनुदान देने तथा सभी पत्रकारों को स्वास्थ्य बीमा योजना के लाभ से जोड़े जाने की मांग की है ।
इस दौरान परिषद के अध्यक्ष अरुण त्रिपाठी , वरिष्ठ पत्रकार संतोष गुप्ता, राजेश शर्मा, संतोष कुमार द्विवेदी, बिजेंद्र तिवारी, संजय तिवारी दीपनारायण सोनी , एजाज खान, अंजनी राय, आदि पत्रकार मौजूद रहे।

न्यूज़ सोर्स : संतोष गुप्ता उमरिया