दिल्ली पुलिस दो बार के ओलिंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार की एक हत्या के मामले में तलाश कर रही है। सुशील पर मंगलवार रात छत्रसाल स्टेडियम में हुए झड़प में शामिल होने और पूर्व जूनियर नेशनल चैम्पियन सागर की हत्या मामले में शामिल रहने का आरोप है। उनके खिलाफ FIR भी दर्ज की गई है। इसी मामले में दिल्ली पुलिस सुशील की तलाश में जगह-जगह छापेमारी कर रही है। पुलिस के मुताबिक घटना के बाद से सुशील लापता हैं।

क्या है पूरा मामला?

मामला दिल्ली के मॉडल टाउन इलाके में छत्रसाल स्टेडियम का है। बताया जा रहा है कि यह झगड़ा प्रॉपर्टी विवाद को लेकर हुआ। सागर और उसके दोस्त सुशील कुमार से जुड़े एक घर में रह रहे थे और हाल ही में उन्हें इसे खाली करने के लिए कहा था। इसी को लेकर स्टेडियम के अंदर पहलवानों के दो गुट आपस में भिड़ गए।

कथित तौर पर सुशील कुमार, अजय, प्रिंस, सोनू, सागर, अमित और अन्य के बीच झगड़ा हुआ था। मंगलवार देर रात हुए इस झगड़े में 5 पहलवान जख्मी हो गए। इनमें से एक सागर (23) ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। सागर मॉडल टाउन में ही रहता था और दिल्ली पुलिस में हेड कांस्टेबल का बेटा था।

स्टेडियम के पार्किंग एरिया में फायरिंग हुई

पुलिस के मुताबिक यह घटना रात में करीब 1 बजकर 21 मिनट पर स्टेडियम के पार्किंग एरिया में हुई। सूचना मिलते ही पुलिस जब मौके पर पहुंची, तो वहां 5 गाड़ियां खड़ी मिलीं। साथ ही घायल पड़े सागर और उसके 4 अन्य पहलवान साथियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसमें सोनू (37) रोहतक हरियाणा निवासी अमित कुमार (27) और 2 अन्य पहलवान शामिल थे।

घटनास्थल से डबल बैरल गन और कारतूस मिले

पुलिस को घटनास्थल से 5 गाड़ियों के अलावा, एक लोडेड डबल बैरल गन और 3 जिंदा कारतूस भी बरामद किए। दिल्ली पुलिस ने बताया कि वे सुशील कुमार की भूमिका की जांच कर रहे हैं, क्योंकि उनके खिलाफ आरोप लगाए गए हैं। पुलिस के मुताबिक सुशील घटना के बाद से लापता हैं। आरोपी व्यक्तियों का पता लगाने के लिए कई टीमों का गठन किया गया है। फिलहाल प्रिंस दलाल समेत दो पहलवानों को हिरासत में लिया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।

सुशील कुमार ने आरोपों को किया खंडन

उधर सुशील पहलवान का इस केस में नाम सामने आने पर उन्होंने सफाई दी कि वह हमारे साथी पहलवान नहीं थे। यह घटना देर रात हुई। हमने पुलिस अधिकारियों को सूचित किया था कि, कुछ अज्ञात लोगों ने हमारे परिसर में कूदकर झगड़ा किया। इस घटना के साथ हमारे स्टेडियम का कोई सम्बंध नहीं है। सुशील ने 2012 के लंदन ओलिंपिक में सिल्वर और बीजिंग ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।