सूरत. गुजरात के सूरत में एक बड़ा हुआ है. कल देर रात फुटपाथ पर सो रहे प्रवासी मजदूरों (Migrant Labourers) को एक बेकाबू ट्रक ने कुचल दिया. इस हादसे में अब तक 15 लोगों की मौत हो गई है. जबकि 3 लोग गंभीर रूप से घायल हैं और इनका इलाज अस्पताल में चल रहा है. इस दर्दनाक हादसे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) की तरफ से आर्थिक मदद का ऐलान किया गया है. इसके तहत मरने वाले परिवार के हर सदस्य को 2-2 लाख रुपये के मुआवज़े, जबकि घायलों को 50-50 रुपये की सहायती राशि मिलेगी.पीएम मोदी ने हादसे को लेकर शोक जताया है. उन्होंने कहा है कि इस दुख की घड़ी में वो परिवार के साथ खड़े हैं. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है, 'सूरत में एक ट्रक हादसा बहुत दुखद है. मेरी संवेदना शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. प्रार्थना है कि घायल जल्द से जल्द ठीक हों.'

 

12 लोगों की मौके पर मौत
अब तक मिली जानकारी के मुताबिक हादसे में एक बच्ची समेत 12 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 6 मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गए. मौके पर पहुंची सुरक्षा टीमों ने घायलों को सूरत स्मायर अस्पताल में भेज दिया गया है, जहां इलाज के दौरान एक और व्यक्ति की मौत हो गई. बताया गया कि घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस  मौके पर पहुंचीं. पुलिस ने सभी मृतकों के शवों के पोस्टमार्टम के लिए  कोसंबा भेज दिया.