नई दिल्ली. ओलंपिक खेलों के शुरू होने से लगभग तीन महीने पहले जापान ने राजधानी टोक्यो सहित पश्चिमी क्षेत्र के तीन प्रांतो में कोरोना वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए शुक्रवार को तीसरे स्तर के आपातकाल की घोषणा की. प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने टोक्यो, ओसाका, क्योटो और ह्योगो में 25 अप्रैल से 11 मई तक के लिए इस आपातकाल की घोषणा की है. सुगा ने कहा कि यह कदम इसलिए भी उठाया गया ताकि जापान में अप्रैल के आखिरी सप्ताह से मई के पहले सप्ताह तक ‘गोल्डन वीक’ की छुट्टियों के दौरान लोगों को एक जगह से दूसरी की यात्रा करने से रोक कर वायरस के प्रसार को नियंत्रित किया जा सके.

विशेषज्ञों और स्थानीय नेताओं ने हालांकि मौजूदा अर्ध-आपातकाल उपायों को नाकाफी बताते हुए तुरंत कड़े कदम उठाने की मांग की है. जापान में अब तक कोविड-19 के लगभग पांच लाख मामले सामने आये है जिसमें करीब 10,000 लोगो की मौत हुई है. जापान ने हालांकि पूर्ण रूप से लॉकडाउन नहीं लगाया गया है. 23 जुलाई से 8 अगस्त के बीच जापान की राजधानी टोक्यो में समर ओलंपिक होना है जो साल का सबसे महत्वपूर्ण आयोजन है.